Breaking News



दो दिनों से हो रही बरसात के कारण मकान की छत गिरी

      रुक रुक कर बरसात जरूर हो रही है, लेकिन बरसात से होने वाले हादसे भी रुकने का नाम नही ले रहे, दरअसल मुज़फ्फरनगर में पिछले दो दिनों से हो रही बारिश ने जहाँ लोगो को गर्मी से निजाद दिला रखी है, तो वही इस बारिश ने लोगो का जीना भी दूभर कर रखा है, सोमवार को भी ये बरसात एक गरीब विधवा बुजुर्ग महिला के मकान पर आफत की बरसात बनकर बरसी जिससे बुजुर्ग महिला के कच्चे मकान की छत भरभराकर गिर गई, हादसा मुज़फ्फरनगर के सिविल लाइन थाना क्षेत्र के गाजावाली मोहल्ले का है, जिसमे बुजुर्ग महिला केला ओर उसका एक मासूम पोता मकान के मलबे की चपेट में आने से गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों दादी पोते को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहाँ उनका उपचार चल रहा है, घायल बुजुर्ग महिला केला की बहू सुनीता ने बताया कि दो दिनों से हो रही बरसात के कारण मकान की कच्ची छत आज सुबह गिर गई, जिसमे मेरी सास ओर मेरे बेटे को चोट लगी है। सास तो अस्पताल में ही भर्ती है, बेटे को हम घर ले आये थे, हम गरीब है प्रशासन को हमारी मदद करनी चाहिए।

मुजफ्फरनगर के बुढाना में सांड की तेरहवीं का आयोजन



    मुजफ्फरनगर जनपद के कस्बा बुढाना के एक गांव में बड़ी धूमधाम से एक सांड की तेरहवीं का आयोजन किया गया जिसमें ग्रामीणों समेत राजनेता वह आसपास के क्षेत्र के लोग हजारों की संख्या में जुटे। तेहरवीं में जहां हवन व ब्रह्मभोज का आयोजन किया गया, वही एक 3 माह के बछड़े को उस सांड की पगड़ी पहनाई गयी। इस आयोजन के मौके पर बीजेपी विधायक उमेश मलिक व सांसद के भाई विवेक बालियान भी मौजूद रहे। 



     दरअसल बुढ़ाना तहसील क्षेत्र के गांव उकावली में 24 जुलाई को विधुत लाइन टूटने से सांड तार की चपेट में आ गया था और करंट लगने से सांड़ की दर्दनाक मौत हो गयी थी ।जिसके बाद ग्रामीणों ने हिन्दू रीतिरिवाज के साथ सांड़ को दफनाकर अंतिम संस्कार किया था और सांड़ की तेहरवीं 5 अगस्त को करने का निर्णय किया था।समय के अनुसार ही ग्रामीणों ने उसी दिन से सांड़ की तेहरवी करने की तैयारी करनी शूरु कर दी थी ।आज सुबह से ही ग्रामीणों ने पहले तो हवन का आयोजन किया जिसमें विधिविधान के अनुसार हवन हुआ उसके बाद ब्रह्मभोज का आयोजन किया गया जिसमें पूरी सब्जी सहित लड्डू बनवाये गए थे जोकि हजारों की संख्या में लोगो ने ग्रहण किया ।इस तेहरवी मे ग्रामीणों सहित राजनेताओं विधायक व आसपास क्षेत्र के हजारों लोगों ने भाग लिया ।इस मौके पर बीजेपी विधायक उमेश मलिक ने बताया की इस गांव में आज तेहरवी थी एक सांड़ था जिसका नाम भोला था पिछले 14 सालों से यही रहता था जब भी में गांव में आता था तो देखता था की बच्चे भी उसके साथ खेलते थे एक अलग प्रकार का भाव उस सांड़ के प्रति ग्रामीणों का था उसका बड़े विधिविधान से अंतिम संस्कार किया गया और आज रस्म तेहरवी का आयोजन किया गया था उसके तीन माह के बच्चे को पगड़ी पहनाई गयी है।

सड़क हादसे में दो कांवड़ियों की दर्दनाक मौत

   मुज़फ्फरनगर में कांवड़ यात्रियों की सुरक्षा को लेकर जिला प्रशासन के दावे उस समय फैल हो गए जब देर रात तेज गति से आ रहे ट्रक ने बाईक सवार 3 कांवड़ियों को टक्कर मार दी। जिसमे दो कांवड़ियों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गयी, जबकि 1 कांवड़िया मामूली रूप से घायल हो गया। पुलिस ने मौके पर पहुँचकर दोनो शवो का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वही फरार ट्रक व चालक की तलाश शुरू कर दी है।

श्रावण प्रारम्भ होते ही सघन चैकिंग अभियान



     श्रावण प्रारम्भ होते ही शिव भक्तों पर भोले का रंग चढ़ने लगता है. करोड़ो शिव भक्त हरिद्वार से पवित्र गंगा जल लेकर अपने अपने गंतव्य की और बढ़ जाते है, जिसमें मुज़फ्फरनगर से लाखो कांवड़िया होकर गुजरते हैं। इसी के मद्देनज़र मुज़फ्फरनगर रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा की दृष्टि से सघन चैकिंग अभियान चलाया गया। रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म से लेकर ट्रेनो तक कि बारीकी से जांच की गई और यात्रियों के सामानों को भी अच्छी तरह चैक किया गया। 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने प्रशासन को बारिश के लिए अलर्ट रहने के निर्देश दिए

y[kuÅ % 28 जुलाई 2018
mRrj izns'k ds eq[;ea=h ;ksxh vkfnR;ukFk th us Hkkjh o"kkZ dks ns[krs gq, ftyk iz'kklu dks vketu dks ,yVZ jgus ds lEcU/k esa leqfpr psrkouh tkjh djus ds funsZ'k fn, gSaA mUgksaus ftyk iz'kklu o iqfyl ds lHkh vf/kdkfj;ksa dks Hkkjh o"kkZ ls izHkkfor {ks=ksa dk Hkze.k djus ds Hkh funsZ'k fn, gSaA 

mUgksaus dgk gS fd ttZj Hkouksa dks fpfUg~r djkdj [kkyh djk;k tk,] ftlls Hkkjh o"kkZ ls gksus okyh nq?kZVuk esa tugkfu jksdh tk ldsA ;g tkudkjh nsrs gq, ;gka ljdkjh izoDrk us crk;k fd Hkkjh o"kkZ ls ihfM+r ifjokjksa dks vgSrqd ,oa fpfdRlh; lgk;rk iznku djus ds fy, leqfpr O;oLFkk fd, tkus ds funsZ'k Hkh eq[;ea=h th }kjk fn, x, gSaA mUgksaus dgk gS fd tu/ku dh gkfu ij lgk;rk jkf'k o jkgr rqjUr forfjr dh tk,A

किसानों के लिए आय सुरक्षा

किसानों के लिए आय सुरक्षा
सरकार ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्‍य रखा है। सरकार ने कृषि, सहयोग एवं किसान कल्‍याण विभाग के राष्‍ट्रीय वर्षा सिंचित क्षेत्र प्राधिकरण के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी की अध्‍यक्षता में एक अंतर-मंत्रालय समिति का गठन किया है। इस समिति को किसानों की आय दोगुनी करने से जुड़े मुद्दों पर गौर करने और वर्ष 2022 तक सही अर्थों में किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्‍य की प्राप्ति के लिए एक रणनीति की सिफारिश करने का जिम्‍मा सौंपा गया है। और पढ़ें...

कुपोषण और मोटापे की समस्या

कुपोषण और मोटापे की समस्या
·         राष्‍ट्रीय परिवार एवं स्‍वास्‍थ्‍य सर्वेक्षण (एनएफएचएस)-4 (2015-16)के अनुसार आदिवासी बच्‍चों में बौनापनकृश्‍ता और कम वजन की व्‍यापकता क्रमश: 43.8%, 27.4% और 45.3है।
·         ग्रामीण बच्‍चों की तुलना में शहरी बच्‍चों में अधिक वजन का अनुपात उच्‍चतर हैजैसाकि 2.8 प्रतिशत शहरी बच्‍चे अधिक वजन वाले हैं जबकि ग्रामीण बच्‍चे 1.8 प्रतिशत अधिक वजन वाले हैं।

प्रधानमंत्री नई दिल्ली में एएसआई के नए मुख्यालय का उद्घाटन करेंगे

राष्ट्रपति भवन में चौथा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया

राष्ट्रपति भवन में आज चौथे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर योग का प्रदर्शन किया गया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में पांच सौ से अधिक अधिकारियों,राष्ट्रपति भवन के कर्मचारियो और उनके परिजनो के साथ-साथ राष्ट्रपति भवन में रहने वाले निवासियो ने भी भाग लिया।

राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद इस समय सूरीनाम की राजकीय यात्रा पर हैं और सूनीराम के स्थानीय समय के अनुसार सुबह सात बजे सूरीनाम के राष्ट्रपति और अन्य गणमान्य अतिथियो के साथ पारामरिबू में आयोजित  अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस समारोह में भाग लेंगे।

सरकारी स्‍कूलों के शिक्षक अब राष्‍ट्रीय शिक्षक पुरस्‍कार के लिए सीधे आवेदन कर सकेंगे


सरकारी स्‍कूलों के शिक्षक अब शिक्षकों के राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार के लिए सीधे तौर पर अपनी प्रवष्टियां भेज सकते हैं। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री प्रकाश जावडेकर ने यह घोषणा करते हुए कहा कि यह एक नई पहल है। इससे पहले प्रवष्टियों का चयन राज्‍य सरकार द्वारा किया जाता था। उन्‍होंने कहा कि सरकारी स्‍कूलों के शिक्षक स्‍वयं शिक्षकों के राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार के लिए आवेदन कर सकते हैं। इस नई प्रणाली में सरकारी शिक्षक / स्‍कूलों के प्रमुख स्‍वयं को ऑन लाइन रूप से नामांकित कर सकते हैं। प्रत्‍येक जिले से तीन शिक्षकों का चयन किया जाएगा। इसी तरह प्रत्‍येक राज्‍य से 6 शिक्षकों का चयन किया जाएगा। राष्‍ट्रीय स्‍तर पर एक स्‍वतंत्र निर्णायक मंडल 50 असाधारण शिक्षकों / स्‍कूलों के प्रमुखों का चयन शिक्षक राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार के लिए करेगा। शिक्षक अपने किये गये कार्यों का विडियो भी अपलोड कर सकते हैं।

श्री जावडेकर ने कहा कि राष्‍ट्रीय निर्णायक मंडल राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार के लिए श्रेष्‍ठ शिक्षकों का चयन उनके नवाचारों तथा शिक्षा प्रणाली में क्रांतिकारी परिवर्तन और शिक्षण शैली के आधार पर करेगा। शिक्षकों को राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार देने का उद्देश्‍य देश में कुछ बेहतरीन शिक्षकों के अनूठे योगदान का उत्‍सव मनाना और वैसे शिक्षकों को सम्‍मानित करना है जिनके संकल्‍प से न केवल स्‍कूली शिक्षा की गुणवत्‍ता में सुधार हुआ है बल्कि उनके विद्यार्थियों का जीवन भी समृद्ध हुआ।

राज्‍यों / केन्‍द्र शासित प्रदेशों के सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्‍त स्‍कूल के शिक्षक, केन्‍द्र सरकार के स्‍कूलों यानी केंद्रीय विद्यालय (केवी), जवाहर नवोदय विद्यालय (जेएनवी), तिब्‍बती लोगों के केन्‍द्रीय विद्यालय (सीटीएसए), रक्षा मंत्रालय के सैनिक स्‍कूल, परमाणु ऊर्जा शिक्षा सोसायटी (एईईएस) के स्‍कूल तथा सीबीएसई और सीआईएससीई से सम्‍बद्ध सभी स्‍कूलों के शिक्षक राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार के लिए आवेदन करने के पात्र हैं।


खतौली में धर्म परिवर्तन, विधायक ने कहा उचित कारवाही की जाएगी

उत्तर प्रदेश में एक बार फिर धर्म  परिवर्तन चर्चा का विषय बना हुआ है. मामला मुज़फ्फरनगर में दो दर्जन से भी अधिक लोगो ने एक साथ किया धर्म परिवर्तन. कुछ लोगो से पादरी ने ली फ़ोटो, आधार कार्ड bjp के एक विधायक बोले कि बर्दास्त नही होगा. यह मामला  धर्म परिवर्तन करने वाले लोगो से संपर्क किया जा रहा है और  जिस पादरी ने इस तरह की हरकत की है उसके खिलाफ कराई जाएगी कानूनी कार्यवाही.

 दरसअल मामला मुज़फ्फरनगर के खतौली क्षेत्र का है जहां चर्च में आने वाले लोगो को  खतौली चर्च के पादरी  निर्मल जैकब ने बहला फुसला कर लोगो को धर्म परिवर्तन कराने को मजबूर करने का मामला प्रकाश में आया है. धर्म परिवर्तन कर रहे लोगो का कहना है कि  हमने इस धर्म से प्रभावित होकर यह धर्म अपनाया  है पहले हम बहुत ही परेशान थे और हमारी संतान जिंदा नही रहती थी. लेकिन जब से हम ने यह धर्म अपनाया है हम एक दम स्वस्थ है और अब हमारी संतान भी जिंदा है भगवान ईशु की हम पर कृपा बनी है. जनपद मुज़फ्फरनगर के मोहिद्दीनपुर गांव के 13 वर्षीय बालक ने यह भी खुलासा किया है कि हम से पादरी निर्मल जो की खतौली के चर्च में है उन्होंने हम से हमारा आधार कार्ड मांग था और हम को नही पता था कि हमारा धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है. अब पादरी का कहना है कि तुम अपने सारे डॉक्यूमेंट वापस ले लेना. आप की मर्जी है हम लोग तो वहाँ घूमने  जाया  करते थे.  जबकि पादरी का यह भी दावा है कि यहां आने से लोगो पर भूत प्रेत का साया सब दूर हो जाता है और लोग भगवान ईशु के दरबार मे आकर अपनी सारी पीड़ाओं से मुक्ति पा लेते है और इस धर्म को अपने आप अपना रहे है. हमारे द्वरा किसी का भी धर्म परिवर्तन नही कराया जा रहा है न ही किसी से कोई सपथ पत्र लिया जा रहा है  वही खतौली क्षेत्र  गांव जोहरा की  एक महिला  संगीता ने बताया  ने बताया कि मेरा पति मेट्रो रिक्शा चलाता है और हम काफी दिनों से परेशान चल रहे थे तो हम को हमारे एक जानकर ने बताया कि आप चर्च में चले जाओ वहां जाकर सब ठीक हो जाएगा. हम उस के कहने पर वहां गए और वहां पर पादरी निर्मल ने हमारा धर्म परिवर्तन कराया और हम भगवान ईसू के चरणों मे जाकर बिल्कुल ठीक हो गए और अब हमारी पैदा होने वाली संतान भी जिंदा रहती है. वही मुजफ्फरनगर के कई हिन्दू संगठनों में धर्म परिवर्तन कराये जाने के मामले को लेकर है भारी रोष जताया है.


वही विधायक खतौली विक्रम सैनी के अनुसार धर्म परिवर्तन का प्रयास कराया जा रहा था समय से पता चल गया रुकवा दिया गया है. जो लोग जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करा रहे थे उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही कराई जाएगी. अगर कोई शिकायत करता है कि मेरे परिवार के सदस्य को जबरदस्ती ईसाई बनाया गया है ऐसा होने नही दिया जाएगा. गरीब लोग है उनको लालच देकर उनका धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है मेरे संज्ञान में मामला आया है उचित कारवाही की जाएगी.


x

आतंकवादियों के खिलाफ सुरक्षा बलों की आक्रामक कार्रवाइयां फि‍र से शुरू होंगी


भारत सरकार ने रमजान की शुरुआत में जम्मू-कश्मीर में घोषित एकतरफा संघर्ष विराम की अवधि आगे न बढ़ाने का फैसला किया 


      17 मई, 2018 को भारत सरकार ने फैसला किया था कि रमजान के पवित्र महीने में सुरक्षा बलों द्वारा जम्मू-कश्मीर में आक्रामक कार्रवाइयां नहीं की जाएंगी। यह फैसला जम्मू-कश्मीर की शांतिप्रिय जनता के हित में किया गया था, ताकि वे रमजान एक अनुकूल माहौल में मना सकें।
केंद्र सरकार सुरक्षा बलों की भूमिका की प्रशंसा करती है जिन्होंने आतंकवादियों की हिंसक कार्रवाइयां जारी रहने के बावजूद इस निर्णय को पूरी तत्परता से लागू किया, ताकि मुसलमान भाई-बहन रमज़ान शांतिपूर्ण ढंग से मना सकें। उनके इस आचरण की भूरि-भूरि सराहना जम्मू-कश्मीर सहित पूरे देश के लोगों ने की है और इससे आम नागरिकों को काफी सहूलियत मिली है।

       यह आशा की गई थी कि भारत सरकार की इस सकारात्मक पहल को सफल बनाने में सभी पक्ष अपना सहयोग देंगे। लेकिन जहां एक ओर सुरक्षा बलों ने अभूतपूर्व संयम का परिचय दिया, वहीं दूसरी ओर आतंकवादियों ने अपने हमले जारी रखे जिससे आम नागरिकों एवं सुरक्षा बलों के लोगों की जानें गईं और कई लोग घायल भी हुए।

सुरक्षा बलों को आदेश दिया जा रहा है कि वे पूर्ववत ऐसी सभी आवश्‍यक कार्रवाइयां करें जिससे कि आतंकवादियों को हमले करने तथा हिंसक वारदातों को अंजाम देने से रोका जा सके और लोगों की जान-माल की रक्षा की जा सके। भारत सरकार के प्रयास जारी रहेंगे कि जम्मू-कश्मीर में आतंक और हिंसा से मुक्त वातावरण बन सके। इसके लिए जरूरी है कि सभी शांतिप्रिय लोग एकजुट होकर आतंकवादियों को अलग-थलग कर दें और जिन लोगों को गुमराह कर गलत रास्ते पर ले जाया गया है, उन्हें शांति के मार्ग पर वापस लाने के लिए प्रेरित करें।



प्रधानमंत्री ने ईद पर देशवासियों को मुबारकबाद दी


प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने ईद के पाक मौके पर देशवासियों को मुबारकबाद दी है।
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘ईद मुबारक! मैं कामना करता हूं कि इस अवसर पर हमारे समाज में एकता एवं सद्भाव के बंधन और अधिक सुदृढ़ तथा अटूट हों।’

अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस मनाने के लिए सीएपीएफ की गतिविधियों की योजना

केन्‍द्रीय सैन्‍य पुलिस बल (सीएपीएफ)- सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), केन्‍द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और राष्‍ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) ने 21 जून, 2018 को मनाए जाने वाले चौथे अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस (आईडीवाई) के अवसर पर योग प्रतियोगिताएं और प्रशिक्षण शिवि‍रों के आयोजन की योजना तैयार की है।

     बीएसएफ की 25वीं बटालियन बीएसएफ, छावला कैंप, नई दिल्‍ली में अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस मनाने की योजना है। कार्यक्रम में योग सत्र आयोजित किया जाएगा, जिसमें अधिकारियों और उनकी पत्नियों, दिल्‍ली में तैनात एसओ और ओआर सहित बीएसएफ के जवान शामिल होंगी। बीएसएफ सभी फिल्‍ड फॉरमेशन के अलावा चार राज्‍यों की राजधानियों/प्रमुख शहरों अर्थात् कोलकाता, अगरतला, अहमदाबाद और बेंगलुरू में योग प्रदर्शन करेंगे, जिसमें इन शहरों के आस-पास तैनात सीएपीएफ के अधिकतर कर्मी शामिल होंगे। इसी प्रकार अपने-अपने स्‍थलों पर अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस को पूरे उत्‍साह और समर्पण से मनाने के लिए मोरारजी देसाई राष्‍ट्रीय योग संस्‍थान (एमडीएनआईवाई) और पतंजलि योगपीठ तथा ईशा फाउंडेशन के प्रशिक्षित योग प्रशिक्षक के नेतृत्‍व में सामूहिक योग प्रदर्शन करने की भी योजना है। बीएसएफ अपने परिसरों के नजदीक रहने वाले स्‍थानीय लोगों और सीमावर्ती क्षेत्रों के निवासियों को भी योग कार्यक्रम में शामिल होने और जीवन में योग के महत्‍व के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए प्रोत्‍साहित करेगा।
    सीआरपीएफ अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस एसडीजी ग्राउंड, ओल्‍ड जेएनयू कैंपस, नई दिल्‍ली में आयोजित करेगा। लगभग 200 अधिकारी/कर्मी योग कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके अतिरिक्‍त सभी कार्यालयों/संस्‍थानों/बटालियनों में भी कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। योग पर प्रदर्शनी, संगोष्‍ठी, कार्यशाला, संगीत और सांस्‍कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे तथा सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन करने वालों को पुरस्‍कार प्रदान किया जाएगा। इसी प्रकार सामान्‍य योग प्रोटोकॉल के बाद सभी स्‍थलों पर सीआरपीएफ जवानों और उनके परिजनों के लिए योग कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। कर्मचारियों विशेष रूप से युवा पीढ़ी को प्रेरित करने के लिए प्रतिस्‍पर्धाएं आयोजित की जाएंगी। सभी सैन्‍य कर्मियों और जवानों के परिवार के सदस्‍यों के बीच योग के प्रति रुचि पैदा करने के लिए योग शिक्षा के क्षेत्र की जानी-मानी हस्तियों को भी आमंत्रित किया जाएगा।
     राष्‍ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) योग सत्र एनएसजी स्‍टेडियम, मानेसर, गुरुग्राम में आयोजित करेगा।

पर्यटन मंत्री अमेरिका में आयोजित होने वाले अतुल्य भारत रोडशो में भाग लेंगे

18 से 22 जून, 2018 के दौरान न्यूयार्क और शिकागो समेत बड़े नगरों में अतुल्य भारत रोडशो आयोजित किए जाएंगे


केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री के.जे. अल्फोन्स 18 से 22 जून, 2018 के दौरान संयुक्त राज्य अमेरिका में आयोजित होने वाले अतुल्य भारत रोडशो में भाग लेंगे। न्यूयोर्क, शिकागो और ह्यूस्टन समेत अमेरिका के बड़े नगरों में ये रोडशो आयोजित किए जाएंगे।
अतुल्य भारत रोडशो के अंतर्गत भारतीय प्रतिनिधि मंडल बी 2 बी परिचर्चा, प्रस्तुति और प्रेस से वार्ता करेगा। पर्यटन मंत्री मुख्य वक्ता होंगे और पर्यटन मंत्रालय के सचिव श्री सुमन बिल्ला अतुल्य भारत विषय पर प्रस्तुति देंगे। इसका उद्देश्य भारत को एक आवश्यक गंतव्य देश के रूप में पेश करना है। रोडशो में सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे। भारत में विदेशी पर्यटक आगमन (एफटीए) की सूची में अमेरिका शीर्ष तीन देशों में शामिल हैं। अप्रैल 2018 में  संयुक्त राज्य अमेरिका  दूसरे स्थान पर था। कुल एफटीए में अमेरिका की हिस्सेदारी 11.21 प्रतिशत थी।
इसके अतिरिक्त  मंत्री महोदय शिकागो में 22 जून, 2018 को फेडरेशन ऑफ मलयाली एसोसिएशन ऑफ अमेरिका (एफओएमएए) द्वारा आयोजित एक सम्मेलन में भी भाग लेंगे।

3500

Visitor

390

News Post